यूपी के नन्हे नरसिंह को अब भारतीय सेना सिखाएगी कुश्ती के दांवपेंच

यूपी के नन्हे नरसिंह को अब भारतीय सेना सिखाएगी कुश्ती के दांवपेंच

Nenhera Narasimha will now teach Indian Army wrestling tactics

Reference: http://www.jagran.com/uttar-pradesh/noida-ncr-narasimha-will-now-teach-wrestling-by-indian-army-16477248.html

नोएडा (प्रभात उपाध्याय)। नोएडा के नन्हे पहलवान नरसिंह पाटिल को सेना ने गोद लिया है। अब वह आर्मी स्पो‌र्ट्स इंस्टीट्यूट (एएसआई) में पढ़ाई के साथ-साथ कुश्ती के दांवपेंच सीखेगा। अभी तक नरसिंह सर्फाबाद के महर्षि दयानंद अखाड़े में प्रशिक्षण ले रहा था।

पुणे के आर्मी स्पो‌र्ट्स इंस्टीट्यूट (एएसआई) में नरसिंह पाटिल को सेना के विशेषज्ञ और कोच प्रशिक्षित करेंगे। नरसिंह को अभी से ओलंपिक व अन्य अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं के लिए तैयार किया जाएगा।

11 वर्षीय नरसिंह पाटिल अभी तक सर्फाबाद में कुश्ती का प्रशिक्षण ले रहा था। कुछ महीने पहले ही उसने स्कूल नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप के 35 किलो भार वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल कर सभी को चौंकाया था और स्कूल व‌र्ल्ड कुश्ती चैंपियनशिप में जगह बनाई थी।

कुश्ती में आने की कहानी भी दिलचस्प

नरसिंह पाटिल की उम्र उस वक्त सात साल थी जब उसने टीवी पर पहली बार कुश्ती का मुकाबला देखा था। फिर कुश्ती देखने की आदत लग गई और धीरे-धीरे कुश्ती के दांवपेंच उसके दिमाग में ऐसे बैठे कि फिर कुश्ती को अपना लिया। घर-परिवार छोड़कर महाराष्ट्र के कोल्हापुर से नोएडा आ गया।

यहां सर्फाबाद के महर्षि दयानंद अखाड़े में सुखबीर पहलवान से कुश्ती के दांवपेंच सीखा। कुछ दिनों बाद ही मेहनत रंग लाने लगी।

स्कूल नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक हासिल करने के अलावा नरसिंह ने स्टेट, जिला व स्कूल स्तरीय प्रतियोगिता में भी अपना लोहा मनवाया है।

नरसिंह पाटिल अब आर्मी स्पो‌र्ट्स इंस्टीट्यूट (एएसआई) में कुश्ती का दांवपेंच सीखेगा। वहां उसे अभी से ओलंपिक के लिए तैयार किया जाएगा। मुझे पूरा भरोसा है कि वह एक दिन ओलंपिक में पदक लाकर देश का नाम रोशन करेगा। – सुखबीर पहलवान, कोच, महर्षि दयानंद अखाड़ा

ABOUT AUTHOR

Rohit is an ardent reader and sports enthusiast who loves to write in his style. Along with his passion for writing, he loves travelling new places and cultures.